संदेश

विशिष्ट पोस्ट

Reflaction of light in hindi

Reflection of light question answerप्रकाश का परावर्तन

घमंड - Motivational story in hindi

चित्र
घमण्ड- प्रेरणादायक कहानी
नमस्कार दोस्तों प्रेरणादायक ब्लॉग StudyTrac पर आपका स्वागत है, इस लेख में हम प्रेरणादायक कहानी 'घमंड' पढ़ने जा रहे हैं।
संसार में किसी का कुछ नहीं| ख्वाहमख्वाह अपना समझना मूर्खता है, क्योंकि अपना होता हुआ भी, कुछ भी अपना नहीं होता| इसलिए हैरानी होती है, घमण्ड क्यों? किसलिए? किसका? कुछ रुपये दान करने वाला यदि यह कहे कि उसने ऐसा किया है, तो उससे बड़ा मुर्ख और कोई नहीं और ऐसे भी हैं, जो हर महीने लाखों का दान करने हैं, लेकिन उसका जिक्र तक नहीं करते, न करने देते हैं| वास्तव में जरूरतमंद और पीड़ित की सहायता ही दान है, पुण्य है| ऐसे व्यक्ति पर सरस्वती की सदा कृपा होती है|
पर क्या किया जाए, देवताओं तक को अभिमान हो जाता है और उनके अभिमान को दूर करने के लिए परमात्मा को ही कोई उपाय करना पड़ता है| गरुड़, सुदर्शन चक्र तथा सत्यभामा को भी अभिमान हो गया था और भगवान श्रीकृष्ण ने उनके अभिमान को दूर करने के लिए श्री हनुमान जी की सहायता ली थी| श्रीकृष्ण ने अपनी पत्नी सत्यभामा को स्वर्ग से पारिजात लाकर दिया था और वह इसीलिए अपने आपको श्रीकृष्ण की अत्यंत प्रिया और अति सुंदरी …

आत्मनिर्भरता - प्रेरणादायक कहानी

चित्र
नमस्कार दोस्तों प्रेरणादायक और ज्ञानवर्धक ब्लॉग StudyTrac पर आपका स्वागत है, इस पोस्ट में हम दो प्रेरणादायक कहानियां पढ़ने जा रहे हैं । सब दिन होत न एक समान - Motivational story in hindi
किसी नगर में एक सेठ रहा करता था| वह बड़ा ही उदार और परोपकारी था| उसके दरवाजे पर जो भी आता था, वह उसे खाली हाथ नहीं जाने देता था और दिल खोलकर उसकी मदद करता था|
एक दिन उसके यहां एक आदमी आया उसके हाथ में एक पर्चा था, जिसे वह बेचना चाहता था| उसके पर्चे पर लिखा था - 'सदा न रहे!'
इस परचे को कौन खरीदता, लेकिन सेठ ने उसे तत्काल ले लिया और अपनी पगड़ी के एक छोर में बांध लिया| नगर के कुछ लोग सेठ से ईर्ष्या करते थे| उन्होंने एक दिन राजा के पास जाकर उसकी शिकायत की जिससे राजा ने सेठ को पकड़वाकर जेल में डलवा दिया| जेल में काफी दिन निकल गए| सेठ बहुत दुखी था| क्या करे, उसकी समझ में कुछ नहीं आता था|
एक दिन अकस्मात् सेठ का हाथ पगड़ी की गांठ पर पड़ गया| उसने गांठ को खोलकर पर्चा निकाला और पर्चा पढ़ा| पढ़ते ही उसकी आंखें खुल गईं| उसने मन-ही-मन कहा-'अरे, तो दुख किस बात का! जब सुख के दिन सदा न रहे तो दुख के दिन भी…

विश्वास का फल - Motivational story in hindi

चित्र
विश्वास का फल - Motivational story in hindi

नमस्कार दोस्तों, ज्ञानवर्धक और प्रेरणादायक ब्लॉग StudyTrac पर आपका स्वागत है | इस ब्लॉग पोस्ट में हम प्रेरणादायक कहानी "विश्वास का फल" पढ़ने जा रहे हैं |

किसी गांव में श्याम नाम का एक नवयुवक रहता था। वह बहुत मेहनती था , पर हमेशा अपने मन में एक शंका लिए रहता कि वो अपने कार्यक्षेत्र में सफल होगा या नहीं! कभी-कभी वो इसी चिंता के कारण आवेश में आ जाता और दूसरों पर क्रोधित भी हो उठता।

एक दिन उसके गांव में एक प्रसिद्ध महात्मा जी का आगमन हुआ।


  खबर मिलते ही श्याम, महात्मा जी से मिलने पहुंचा और बोला, “ महात्मा जी मैं कड़ी मेहनत करता हूँ, सफलता पाने के लिए हर-एक प्रयत्न करता हूँ; पर फिर भी मुझे सफलता नहीं मिलती। कृपया आप ही कुछ उपाय बताएँ।”


वेश्या - Motivational story in hindiमिथुन चक्रवर्ती की जीवनी (खतरनाक नक्सली से बॉलीवुड स्टार बनने तक )

 महात्मा जी ने मुस्कुराते हुए कहा- बेटा, तुम्हारी समस्या का समाधान इस चमत्कारी ताबीज में है, मैंने इसके अन्दर कुछ मन्त्र लिखकर डालें हैं जो तुम्हारी हर बाधा दूर कर देंगे। लेकिन इसे सिद्ध करने के लिए तुम्हे…

दुर्वाशा ऋषि का शाप

चित्र
दुर्वाशा ऋषि का श्राप - Motivational story in hindi

Hi friends, प्रेरणादायक और ज्ञानवर्धक ब्लॉग StudyTrac पर आपका स्वागत है। आज की इस लेख में हम महाभारत की एक छोटी सी प्रेरणादायक कहानी पढ़ने जा रहे हैं ।


दुर्योधन के कपट-द्यूत में सबकुछ हारकर पांडव द्रौपदी के साथ काम्यक वन में निवास कर रहे थे, परंतु दुर्योधन के चित्त को शांति नहीं थी| पांडवों को कैसे सर्वथा नष्ट कर दिया जाए, वह सदा इसी चिंता में रहता था| संयोगवश महर्षि दुर्वासा उसके यहां पधारे और कुछ समय तक वहीं रहे| अपनी सेवा से दुर्योधन ने उन्हें संतुष्ट कर लिया| जाते समय महर्षि ने उससे वरदान मांगने को कहा| दुर्योधन बोला, महर्षि, पांडव हमारे बड़े भाई हैं| यदि आप मुझ पर प्रसन्न हैं तो मैं चाहता हूं कि जैसे आपने अपनी सेवा का अवसर देकर मुझे कृतार्थ किया है, वैसे ही मेरे उन भाइयों को भी कम से कम एक दिन अपनी सेवा का अवसर दें| परंतु मेरी इच्छा है कि आप उनके यहां अपने समस्त शिष्यों के साथ आतिथ्य ग्रहण करें और तब पधारें जब महारानी द्रौपदी भोजन कर चुकी हों, जिससे मेरे भाइयों को देर तक भूखा न रहना पड़े|
बात यह थी कि पांडव जब वन में गए, तब उनके …

हिन्दी मुहावरे

चित्र
 hindi muhaware 2018 हिन्दी मुहावरे -2018 General Knowledge in hindi टांग अड़ाना - दखल देना

टें बोल जाना - मर जाना

ठकुर सुहाती कहना - खुशामद करना

डकार जाना - हड़प लेना

चांदी काटना - अधिक लाभ कमाना

चांदी का जूता मारना - रिश्वत देना

छक्के छुड़ाना - परास्त कर देना

छप्पर फाड़कर देना - अनायास लाभ होना

छटी का दूध याद आना - अत्यधिक कठिन होना

छाती पर मूंग दलना - पास रहकर दिल दु:खाना

छूमन्तर होना - गायब हो जाना

ढोल की पोल होना - खोखला होना

तीन तेरह होना - बिखर जाना

तलवार के घाट उतारना - मार डालना

थाली का बैगन होना - सिद्धांतहीन होना

दांत काटी रोटी होना - गहरी दोस्ती

दो -दो हाथ करना - लड़ना

धूप में बाल सफेद होना - अनुभव होना

धाक जमाना - प्रभावित करना


दुनिया के सात अजूबे

संसार में सबसे बड़ा और छोटा छाती पर सांप लोटना - ईर्ष्या करना

जबान को लगाम देना - सोच समझकर बोलना

जान के लाले पड़ना - प्राण संकट में पड़ना

जी खट्टा होना - मन फिर जाना

जमीन पर पैर न रखना - अहंकार होना

जहर उगलना - बुराई करना

जान पर खेलना - प्राणों की बाजी लगाना

टेढ़ी खीर होना - कठिन कार्य

नाक…